भाभी और उनकी छोटी बहन

मेरा नाम अजय. मै अपनी भाभी को रोज़ चोदता था एक बार उनकी बेहेन घर आई और उसे भी मैने ठोक दिया यही मै कहानी मे बताने वाला हू.मैं आपको कहानी पर ले कर चलता हूँ.

मैं और भाभी रूम मे थे. और मैं उनको नंगी करके चोद रहा था. मुझे उनको चोदने ने बहुत मज़ा आ रा था और मैं काफ़ी देर से उन्हे चोदे जा रा था. फिर ऐसे ही मैं लगा हुआ था की तभी दरवाजा पर हल्का सा खड़का हुआ तो मैने देखा की भाभी की छोटी बेहेन हमे देख रही थी.

और फिर उसके बाद वो बाहर आ कर सोफे पर बैठ गई. अब जब हम दोनो भी बाहर आए और तब भाभी ने उससे पूछा की क्या हुआ तब आँचल बोली – आप दोनो ये क्या कर रहे थे.

भाभी – जो मैं तुम्हारे जीजू से न्ही करवा पाती वो ही सब हो रहा था.

आँचल – मैं जीजू को बता दूँगी.

भाभी- ठीक है तुम बता दो और मैं भी सब बता दूँगी.

भाभी की ये बात सुन कर वो घबरा गई की आख़िरकार ऐसी कोन सी बात है जो इनको पता चली है.

भाभी – मुझे पता है की तुम डेली अपनी पूसी को रब्ब करती हो और तो और उंगली भी डालती हो .

ये सब बाते सुन कर वो चुप रह गई और कहने लग गई की अछा बता दो , मुझे क्या करना होगा.

भाभी- तुम्हे कुछ नही करना है. बस तुम ये बता दो की तुम्हारा मन करता है चुदने का .

आँचल- हाँ दीदी करता तो बहुत है पर किससे चुदु मुझे ये समझ न्ही आता है.

भाभी – तो आज तुम चुद ही जाओगी.

आँचल- वो केसे.

भाभी- तुम्हे मेरा फ्रेंड चोदेगा.

आँचल- ये करेंगे.

मैं तो मन ही मन खुश हो रहा था की चलो अब आज दो दो की चूत को चोदने का मौका मिलेगा और एक तो फ्रेश पीस ही मिलेगी

अब मैने भाभी को देखा और वो भी मुझे करने के लिए कह रही थी. तो मैने भी कोई ना न्ही करी और ऐसे ही बाते सुनता रहा.

और फिर उसके बाद भाभी ने उसकी पेंट को उतरा तो मैं तो बस देखता ही रह गया. उसकी पेंटी पूरी गीली हो रखी थी और तो और फिर भाभी भी उसकी पूसी को रब करने लग गई. ये देख कर मैने भी उसके टफ बूब्स को अपने हाथो मे ले लिया और दबाने लग गया.

मुझे तो ऐसे बहुत मज़ा आ रहा था और फिर उसके बाद भाभी ने उसको पूरा नंगा कर दिया. मैं उसका नंगा जिस्म देख कर पागल ही हो गया.उसका क्या मस्त जिस्म था उसको देख कर मेरा मन कर रहा था की अभी के अभी इसको पकड़ कर चोद डालु.

फिर उसके बाद भाभी मुझे कहने लग गई की अब शुरू होज़ा. तो मैने उनकी बात को सुना और फिर उसके बाद अपने लंड को हाथो मे ले लिया. मेरा लंड देख कर आँचल थोड़ा घबरा गई और फिर मैने उसे ये चूसने को कहा तो उसने मुझसे कहा की मैं इसे न्ही चुसूगी.

तब भाभी ने उससे कहा की अगर तुम इसे न्ही चुसोगी तो ये खड़ा न्ही हो पाएगा और फिर तुम्हे चोदेगा कैसे. फिर उसके बाद उसने बात मान ली और मेरे लंड को चूसने लग गई. मुझे लंड को चुसवाने मे बहुत ही ज़्यादा मज़ा आ रहा था.

फिर उसके बाद मैने उसको लंबा लेटा दिया औड उसके बूब्स को चूसने लग गया. मै भी पागल हो रहा था और ऐसे ही भाभी ने उसके मूह पर अपनी चूत रख दी और फिर ऐसे ही मैने भी उसको और गरम करना शुरू कर दिया.

फिर भाभी ने कहा की अब जो करना है जल्दी से कर लो कही और कोई आ ना जाए. तो मैं ये बात सुन कर अपने लंड को हाथ मे ले कर मसलने लग गया. फिर भाभी ने उसकी चूत के नीचे पिल्लो रखा और फिर मैने उसकी चूत पर लंड को सेट किया

लंड सेट करने के बाद मैने हल्का सा धक्का लगाया तो वो अंदर न्ही गया. तब मैने भाभी से कहा की अंदर न्ही जा रहा है तो भाभी उठ कर रूम मे से क्रीम ले कर आई और उसने थोड़ी मेरे लंड पर लगाई और कुछ उसकी पूसी पर रब करी.

अब उसके ऐसे करने के बाद मैने भी उसकी चूत पर अपना लंड रखा और फिर उसके बाद हल्का सा धक्का दिया तो वो हल्का सा ही अंदर चला गया. हल्का सा अंदर जाते ही भाभी ने उसके मूह पर अपना हाथ रख दिया और वो रोने लग गई.

फिर मैने ज़्यादा देर ना करते हुए एक ज़ोर का धक्का दिया तो वो ज़ोर से चिल्लाई पर उसकी आवाज़ बाहर न्ही आ सकी. और फिर उसके बाद मैने उसको ऐसे ही चोदना शुरू कर दिया. मुझे उसको चोदने मे बहुत ही ज़्यादा मज़ा आ रहा था और मैं उसे काफ़ी देर तक ऐसे ही चोदता रहा और बस चोदता ही रहा.

फिर उसके बाद मैने उसके बूब्स को पकड़ कर ज़ोर ज़ोर से चोदना शुरू कर दिया. उसकी चूत मे पूरा का पूरा लंड जा चुका था और फिर मैं भी ऐसे ही ज़ोर ज़ोर से लगा हुआ था. फिर उसके बाद मैने उसकी चूत मे ही सारा माल डालने को कहा पर भाभी ने काहा की सारा का सारा माल बाहर निकलेगा.

तो मैने उनकी बात को मानते हुए अपने लंड को चूत से निकाला और जेसे ही निकाला तो मैने उसके मूह मे डाल दिया. और जैसे ही उसके मूह मे लंड गया तो मैने सारा का सारा माल उसके मूह मे निकाल दिया और वो भी मज़े से पी गई

Paragraph
मैं ये देख कर बहुत खुश हो गया और उसे भी मेरा पानी भी बहुत ही ज़्यादा टेस्टी भी लगा था. और फिर ऐसे ही काफ़ी देर तक लंड उसकी मूह मे रहा और फिर ऐसे ही काफ़ी देर तक वो चुस्ती रही.

और फिर मैने दोनो बहनो को एक साथ भी ज़रूर चोदा और खूब मज़ा भी लिया.

कहानी पढ़ कर जरूर बताइए की कैसी लगी क्योकि मुझे आपके कॉमेंट का इंतेज़ार रहेगा. और आगे फिर कभी किसी और कहानी के साथ मिलुगा.

Leave a Reply