मेरी पसंद आउटडोर सेक्स चूत

<p>मेरे प्यारे लंड और चूतों को मेरे लंड का सलाम, आप लोग मुझे नहीं जानते होंगे क्यूंकि मैं नया खिलाड़ी आया हूँ | और मैं चुदाई की कहानियों का बहुत शौक़ीन हूँ, इन्हें पढना और और इनको पढ़ के मुठ मारना मुझे बहुत पसंद है | और जब जब मैंने चुदाई की है बाहर ही की है चाहे वो कोई भी जगह है | मुझे आउटडोर सेक्स बहुत पसंद है, क्यूंकि इससे मुझमे बहुत जोश आता है | मैं अब अपने बारे में बताता हूँ, मेरा नाम आयुष है, और मैं मुंबई का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 30 साल की है और मैं यहाँ अकेले रूम ले के रहता हूँ | मैं एक ड्राईवर हूँ और पर मेरी पगार बहुत अच्छी है बताता हूँ कैसे | मेरी हाईट 5 फुट 9 इंच है, और मैं सांवले रंग का हूँ और थोडा सा मोटा भी हूँ | चलो अब मैं कहानी शुरू करता हूँ, नहीं तो आप लोग बोलोगे की मैं मुन्ह्चोदी कर रहा हूँ | हाहाहा</p>
<p>ये बात आज से 1 साल पहले की है, जब मैं यहाँ नया नया आया था और ड्राईवर की लाइन में था मैं शुरू से | तो मैंने एक रईस फॅमिली के यहाँ ड्राईवर की नौकरी करने लगा | उनके पास बहुत सारी गाड़ियाँ है और मैं रजनी जी की गाड़ी का ड्राईवर हूँ और उनकी पसंदीदा गाड़ी है बी.एम.डब्लू वो पेशे से एक डॉक्टर हैं और बहुत हसीन दिखती हैं | वो शादीशुदा है और उनके पति एक बिल्डर हैं जो ज्यादातर बाहर ही रहते हैं और रजनी जी के दो बच्चे हैं एक लड़का और एक लड़की है | तो मैं यहाँ नौकरी कर रहा था | मैं उन्हें बहुत पसंद करता था क्यूंकि वो बहुत सुन्दर थी और उनका बदन काफी सुडोल था | मैं उनके नाम की मुठ भी मारा करता था |</p>
<p>एक दिन की बात है मैडम को किसी पार्टी में जाना था और उन्होंने मुझे रात में 8 बजे आने को कहा था | तो मैं जब उनके घर गया तो उन्होंने ब्लैक कलर की पतली सी साड़ी पहनी हुई थी और वो साड़ी ऐसी थी की बहुत कुछ दिखाई दे रहा था बहुत हॉट और सेक्सी लग रही थी | फिर उन्होंने मुझसे कहा की गाड़ी जुहू की तरफ ले लो तो मैंने गाड़ी चालू किया और वो पीछे बैठ गई थी |</p>


<p>फिर जब हम वहाँ पंहुचे तो उन्होंने मुझसे कहा कि तुम यहाँ अकेले क्या करोगे तुम भी अन्दर चलो मेरे साथ | फिर मैं गाड़ी पार्क करके पार्टी में चला गया और जब मैने देखा वहाँ तो मुझे ऐसा लगा जैसे मैं किसी परियों की दुनियां में आ गया हूँ वहाँ पर इतनी सारी लड़कियां और भाभियाँ थी और उन्होंने ऐसे ऐसे कपडे पहन रखे थे कि लगा बस अब ये सरकने वाला है | ये सब देख कर तो मेरा लंड खड़ा हो गया था | फिर पार्टी शुरू हुई और सब बड़े लोग ड्रिंक करने लगे | मन तो मेरा भी था पीने का पर मैं ड्राईवर हूँ तो मैं पी नहीं सकता था | मैडम ने भी बहुत ज्यादा पी ली थी फिर जब पार्टी ओवर हुई तो मैडम से ठीक से चला भी नहीं जा रहा था | फिर मैंने मैडम को संभाला और उनका एक हाँथ अपने कंधे पर रखा और एक उनकी कमर में अपना हाँथ डाल कर सहारा दिया | मुझे बहुत अच्छा लग रहा था उन्हें इस तरह से सहारा देना क्यूंकि उनके दूध मेरे से छू रहे थे | फिर मैंने उन्हें कार में लेटा दिया और फिर अपनी सीट पर बैठ गया और गाड़ी सीधा उनके घर लगा दिया और फिर उन्हें सहारा दे कर उनके कमरे में उन्हें लेटा दिया था | फिर मैं अपने घर चला आया, और वो ही चीज़े याद कर कर के मैंने मुठ निकाली मैडम के नाम की | अगले दिन मैडम की छुट्टी थी तो मैडम ने मुझे कॉल लगाया | मुझे लगा की शायद मैडम को कुछ काम होगा इसलिए मुझे कॉल लगाया होगा |</p>

<p>फिर मैं उनके घर पंहुचा तो उन्होंने ने मुझसे पुछा की मैं घर कैसे आई तो मैंने उन्हें बताया कि मैडम जी आप बहुत नशे में थी आप से चला भी नहीं जा रहा था तो मैंने आपको कमरे तक छोड़ा फिर मैं अपने घर चला गया था | फिर उन्होंने पूछा की मेरा पर्स नहीं मिल रहा है वो कहाँ है ? मैं एक दम से डर गया और मैंने कहा मैडम मुझे नहीं पता वो तो आप ले कर गई थी और मुझे ध्यान नहीं है की अपने वो पर्स वापस लाये थे या नहीं | फिर मैंने उनसे कहा की मैडम मैं गाड़ी में चेक करता हूँ हो सकता है कि वो वहीँ हो | तो उन्होंने कहा कि ठीक है देख लो फिर मैंने कार का दरवाजा खोला तो देखा कि वो पर्स वहीँ नीचे पड़ा था | फिर मैंने उन्हें दे दिया तो मैडम ने कहा सुनो रात में फिर पार्टी में जाना है तो मैंने कहा ठीक है मैडम जी तो मैं कितने बजे आऊ ? तो उन्होंने कहा तुम 8 बजे घर आ जाना मैं रेडी रहूंगी फिर मैं ओके बोल के घर आ गया था | फिर रात को 8 बजे मैं उनके घर पंहुच गया था और आज भी उन्होंने बहुत सेक्सी कपडे पहने थे और बहुत सुन्दर और सेक्सी लग रही थी | तो मैंने मैडम से कहा मैडम आप आज बहुत सुन्दर लग रहे हो तो उन्होंने कहा कि रोज नहीं लगती क्या मैं सुन्दर ? तो मैंने कहा नहीं मैडम आप सुन्दर तो रोज ही लगते हो पर आज आप बहुत ही ज्यादा सुन्दर लग रहे हो फिर मुकुराते हुए उन्होंने मुझे थैंक यू कहा और फिर हम चल दिए जुहु की तरफ | वहाँ पंहुच के मैडम ने फिर बहुत ज्यादा ड्रिंक कर ली थी और फिर मुझे मैडम को संभालना पड़ रहा था | ऐसा मैं मन में सोच रहा था | पर मैडम ने ड्रिंक तो की थी पर ज्यादा नहीं की थी |</p>

<p>फिर मैंने कार स्टार्ट की और घर की तरफ आने लगा तो मैडम ने एक सूनसान जगह पर गाड़ी रुकवाई | तो मैंने पुछा की मैडम आपने यहाँ गाडी क्यों रुकवाई ? तो उन्होंने कहा आज मेरा कुछ करने का मन है तो मैंने फिर पुछा की मैडम क्या करना है आपको ? तो उन्होंने अपने कपडे उतारना चालू किया और मैं उन्हें घूर घूर कर देखने लगा और कुछ ही पल में मैडम नंगी हो गई तो मैंने मैडम से पुछा मैडम आप ये क्या कर रही हैं ? आपने अपने कपड़े क्यूँ उतार दिए ? तो वो बोली ज्यादा बात मत कर पीछे आ सीट के | मेरे मन में तो लड्डू फूटने लगे थे, पर मैं अनजान बनते हुए मैडम का कहना मानने लगा | मैं पीछे की सीट पर गया तो मैडम ने मुझसे बोला मेरी चूत चाटो मैं बहुत खुश हो गया ये सुन कर | मैडम की चूत एक दम साफ और चिकनी थी फिर मैं मैडम की चूत चाटने लगा और उँगलियों से चोदते भी जा रहा था मैडम की चूत को और मैडम अहहहहः आहाह्हहहहहहाहा अहहहह्हहाहाआ अहहाआ अहहह्हहा अहहहहहः अहहहाहहाहा अहाह्हहाहा अहहहह्हा अहह्हाह्हा आह्हहः उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह ऊम्म्ह्ह ऊनंह ऊउम्म्ह्ह ऊन्ह्ह आआअहाआहाआ अहहाआआहाअ कर रही थी | मैडम को बहुत मजा आ रहा था जब मैं उनकी चूत को इतने अच्छे तरीके से चाट रहा था | फिर मैडम ने मुझसे कहा कि अब मेरी गांड चाटो तो मैं उनकी गांड चाटने लगा और चूत को ऊँगली से चोद रहा था | और मैडम अहहहहः आहाह्हहहहहहाहा अहहहह्हहाहाआ अहहाआ अहहह्हहा अहहहहहः अहहहाहहाहा अहाह्हहाहा अहहहह्हा अहह्हाह्हा आह्हहः उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह ऊम्म्ह्ह ऊनंह ऊउम्म्ह्ह ऊन्ह्ह आआअहाआहाआ अहहाआआहाअ किये जा रही थी |10 मिनट तक मैंने मैडम की चूत और गांड दोनों चाटा | मैडम की चूत झड चुकी थी | फिर मैडम ने कहा की अपना लंड निकालो तो मैंने तुरंत ही अपने पेंट को खोल कर लंड निकला था तो संप जैसा फनफनाता हुआ मैडम के मुंह के पास आ गया तो मैडम ने मुझसे कहा तुम्हारा लंड इतना बड़ा है और इतना मोटा बाप रे ! तुम तो बहुत सुन्दर लंड के मालिक हो तो मैंने कहा हाँ मैडम मेरा लंड है ही ऐसा | फिर मैडम मेरे लंड को चूसने लगी जोर जोर से और मेरे मुंह से सिस्कारिया निकल रही थी मैं बस अहहहहः आहाह्हहहहहहाहा अहहहह्हहाहाआ अहहाआ अहहह्हहा अहहहहहः अहहहाहहाहा अहाह्हहाहा अहहहह्हा अहह्हाह्हा आह्हहः उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह ऊम्म्ह्ह ऊनंह ऊउम्म्ह्ह ऊन्ह्ह आआअहाआहाआ अहहाआआहाअ कर रहा था |</p>

<p>फिर मैडम ने मेरा लंड 20 मिनट तक चूसा और मैं मैडम के दूध पीने लगा तुरतं ही | मैडम के दूध में खीच खीच के पी रहा था और मैडम अहहहहः आहाह्हहहहहहाहा अहहहह्हहाहाआ अहहाआ अहहह्हहा अहहहहहः अहहहाहहाहा अहाह्हहाहा अहहहह्हा अहह्हाह्हा आह्हहः उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह ऊम्म्ह्ह ऊनंह ऊउम्म्ह्ह ऊन्ह्ह आआअहाआहाआ अहहाआआहाअ कर रही थी | फिर मैंने मैडम को 25 मिनट तक चोदा था और मैडम बस अहहहहः आहाह्हहहहहहाहा अहहहह्हहाहाआ अहहाआ अहहह्हहा अहहहहहः अहहहाहहाहा अहाह्हहाहा अहहहह्हा अहह्हाह्हा आह्हहः उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह ऊम्म्ह्ह ऊनंह ऊउम्म्ह्ह ऊन्ह्ह आआअहाआहाआ अहहाआआहाअ कर के दो बार और झड़ चुकी थी |</p>

<p>तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी | मैं आप लोगो को आगे की कहानिया भेजता रहूँगा |  इस कहानी पर अपनी राय जरुर दीजियेगा | मुझे इंतजार रहेगा |</p>

Leave a Reply